सबने स्वस्तिक के चिन्ह को देखा ही होगा. स्वस्तिक के चिन्ह को शुभ काम के लिए किया जाता है. यह स्वस्तिक का चिन्ह...

क्या आपको पता है स्वस्तिक के चिन्ह का क्या मतलब है


      
               सबने स्वस्तिक के चिन्ह को देखा ही होगा. स्वस्तिक के चिन्ह को शुभ काम के लिए किया जाता है. यह स्वस्तिक का चिन्ह मंगल का प्रतिक माना जाता है. 

               स्वस्तिक का इस्तमाल कइ सदियों से हिन्दू, बोद्ध और जेन धर्म में किया जाता है. इस स्वस्तिक चिन्ह को कही सालो से किया जाता आ रहा है.

              स्वस्तिक के यह चिन्ह में चार रेखाए होती है जो चारो दिशा यानि की पूर्व, पचिम, उतर, दक्षिण की और इशारा करती है. हिन्दू मान्यताके मुताबिक यह रेखाए चार वेदों का प्रतिक है. कोइ यह भी मानते है की यह ब्रह्मा के चार शिर की निशानी है. 

            माना जाता है की स्वस्तिक के आसपास अगर गोलाकार की लाइन बना दे तो यह सूर्य भगवान का चिन्ह माना जाता है.

आपका बहुमूल्य समय देने के लिए धन्यवाद

0 कमेन्ट यहाँ कीजिये: